5 दिनों में छह फार्मेसिस्टों की मौत: Pharmacists Federation shocked

0
300

लखनऊ। आकस्मिक और असमय मौत होती है, तो दिल दहल जाता है, ऐसा ही कुछ दिनों में प्रांतीय फार्मेसी संवर्ग में हुआ । पिछले 5 दिनों में छह युवा साथियों के आकस्मिक निधन ने फार्मासिस्ट समाज को द्रवित कर दिया है। फार्मासिस्ट फेडरेशन के अध्यक्ष सुनील यादव बताते हैं कि अगर देखा जाए तो दो मोतें हार्ट अटैक से और तीन अन्य अचानक संदिग्ध मौतें ड्यूटी के दौरान हुई। एक फार्मासिस्ट की मौत एक्सीडेंटल है। उन्होंने बताया कि

Advertisement

1. 15 मई 2024 बुधवार को प्रमोद यादव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हंडिया प्रयागराज कार से ड्यूटी जा रहे थे रास्ते में हृदयाघात हुआ, उन्होंने कार को किनारे लगाया और उनका दुखद निधन हो गया । कार में उनका मृत शरीर मिला ।
2. उसी दिन 15 मई बुधवार को ही कौशांबी मंझनपुर फार्मेसिस्ट सदाशिव सिंह का ड्यूटी करते हुए चिकित्सालय में ही निधन हो गया ।
3. शुक्रवार 17 मई 2024, को माधव प्रसाद त्रिपाठी मेडिकल कॉलेज सिद्धार्थनगर के साथी बी नारायण का महराजगंज फरेंदा में सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई ।
4. 18 मई 2024 शनिवार – सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामनगर प्रयागराज के फार्मेसिस्ट जय सिंह का ड्यूटी करते हुए आकस्मिक निधन हो गया ।
इसके अलावा सोमवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बाराचवर गाजीपुर में तैनात फार्मेसिस्ट वकार शाहिद का दिल का दौरा पड़ने सेदिन में एक बजे निधन हो गया है

5. सोमवार 20 मई को बुलंदशहर मालागढ़ के साथी सूरज का आकस्मिक निधन हो गया ।
इन छह साथियों के निधन का एकाएक ड्यूटी पर या वाहन चलाते समय इस प्रकार की घटना का हो जाना, विचलित कर रहा है । फेडरेशन इन सभी साथियों की मौत पर परिजनों के साथ संवेदनाएं व्यक्त करता हैं।

Previous articleसुपर स्पेशलिटी के इस दौर में फैमिली डॉक्टर की तरफ लौटना जरूरी
Next articleबर्गर नहीं बच्चों को वेजिटेबल के लिए करें जागरूक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here