स्टेट मेगा एक्स्पो में फैशन शो में बिखरा मॉडल्स का जलवा

1
1304

-उत्तर प्रदेश स्टेट मेगा एक्स्पो में फैशन शो का हुआ आयोजन

Advertisement

-पारम्परिक रेशम व खादी की हुई मॉडर्न डिजाइन संग जुगलबंदी

-डिजाइनर्स के हुनर, मॉडल्स की प्रस्तुतियों ने बांधा समां

लखनऊ। प्रभु श्रीराम जन-जन का विश्वास हैं…खादी एक विचार और रेशम एक एहसास…इन तीनों का सुंदर समागम हुआ उस फैशन शो के मंच पर…जो नाम से भले ही फैशन शो था लेकिन प्रस्तुति और अनुभूति पूरी तरह से पारम्परिक, आध्यात्मिक और आत्मिक थी।

बात हो रही है 03 नवम्बर से इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में शुरू हुए उत्तर प्रदेश स्टेट मेगा एक्स्पो के अंतर्गत मंगलवार को आयोजित किए गए ‘रेशम एवं खादी’ फैशन शो की। यहां जिन परिधानों का प्रस्तुतिकरण किया गया और जिस तरह के संगीत पर मॉडल्स ने कैटवॉक किया…उसे देखकर कुछ देर को यही एहसास हुआ कि अयोध्या में प्रभु श्रीराम की उपस्थिति का चित्रण किया जा रहा है। फैशन शो के साथ ही यहां हास्य व्यंग्य के लिए प्रख्यात सर्वेश अस्थाना ने दर्शकों को खूब गुदगुदाया।
फैशन शो में लखनऊ की मशहूर डिजाइनर श्रीमती अस्मा हुसैन व अदिति जग्गी रस्तोगी के डिजाइन किए हुए वस्त्रों का प्रख्यात मॉडल्स ने प्रदर्शन किया।

आयोजन के मुख्य अतिथि माननीय मंत्री सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम, हथकरघा, वस्त्रोद्योग विभाग, उत्तर प्रदेश श्री राकेश सचान जी रहे।

साथ ही विशिष्ट अतिथि के रूप उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक जी की धर्मपत्नी श्रीमती नम्रता पाठक, प्रख्यात लोकगायिका श्रीमती मालिनी अवस्थी, डॉ. गौरांग मजूमदार व एसजीपीजीआई से डॉ. आदित्य कपूर, प्रेरणा कपूर, इतिश्री मिश्रा ने शिरकत की। फैशन शो के निर्देशक श्री लोकेश शर्मा जी रहे। साथ ही उ.प्र. रेशम विभाग के प्रमुख सचिव श्री आर. रमेश कुमार तथा विशेष सचिव एवं निदेशक श्री सुनील कुमार वर्मा भी यहां मौजूद रहे।
फैशन शो की प्रमुख मॉडल: मिस इंडिया रनरअप व सुपर मॉडल पंखुड़ी गिडवानी, सुपर मॉडल दीप्ति गुजराल, आइरिस मैती व रितु सुहास।

अतिथियों के उद्गगार :
“कोई भी परिधान उसकी संस्कृति की पहचान होता है, इसलिए मैं कोशिश करती हूं कि मैं बुनकरों द्वारा बुनी हुई चीजें ही पहनूं…”– श्रीमती मालिनी अवस्थी

“एक फैशन शो का रामायण थीम पर आयोजन करना अतुलनीय है…”- श्रीमती नम्रता पाठक

प्रधानमंत्री के विजन और माननीय मुख्यमंत्री जी के मार्गदर्शन में रामायण पर आधारित यह शो अपने आप में अद्भुत है। हमारा लक्ष्य है कि जो भी ओडीओपी और स्वयं सहायता समूहों के उत्पाद हैं, उन्हें एक उचित मंच मिले, ताकि उनकी मेहनत का सम्मान हो सके। मंत्री श्री राकेश सचान

Previous articleश्री टाइम्स के कर्मचारियों का बकाया भुगतान न करने पर चेयरमैन मनोज द्विवेदी की संपत्ति होगी कुर्क
Next articleKgmu: 24घंटे में दो सफल लिवर प्रत्यारोपण,रच दिया इतिहास

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here