चमत्कार : कोमा का मरीज इन दवाओं से ठीक

1
5554

लखनऊ। टूडियागंज स्थित राजकीय आयुर्वेद कॉलेज के विशेषज्ञ डाक्टर का दावा है कि कोमा के मरीज को एलोपैथिक दवाओं से लाभ नहीं मिलने पर आयुर्वेदिक पद्धति से इलाज करके नया जीवन दे दिया है। रोड एक्सीडेंट के कारण कोमा में जा चुके युवक के शरीर में आयुर्वेदिक दवाओं के प्रभाव ठीक कर दिया है। युवक अब बोल भी रहा है। वह हल्का बोल भी पा रहा है।

Advertisement

परिजनों के अनुसार बाराबंकी निवासी अमन वर्मा (22) तीन महीने पहले रोड एक्सीडेंट में घायल हो गया था। अमन के सिर में गंभीर चोटे आईं थीं। इस कारण वह कोमा में चला गया था। परिजनों का कहना है कि कोमा के दौरान अमन को तेज बुखार आने लगा। परिवारीजनों ने उसे स्थानीय अस्पतालों में भर्ती कराया। फिर भी कोई सुधार नहीं हुआ।

डॉक्टरों ने इलाज के लिए मरीज के सिर का पांच सीटी स्कैन कराया आैर ब्लड व अन्य जांचे भी कराई। बुखार को नियंत्रण करने के लिए एंटीबायोटिक का कोर्स भी चलाया गया। कोई लाभ न होने पर कुछ लोगों के परामर्श पर परिजन अमन को लेकर टूडियागंज स्थित राजकीय आयुर्वेदि कॉलेज में भर्ती कराया। यहां काय चिकित्सा विभाग के डॉ. संजीव रस्तोगी ने मरीज की जांच रिपोर्ट देखने व परिजनों से वार्ता के बाद इलाज शुरु किया। उन्होंने बताया कि सबसे पहले बुखार के असर को समाप्त करने के लिए विशेष आयुर्वेदिक दवाएं देने के साथ ही माथे पर पानी में भीगी पट्टी रखवाई गयी। उन्होंने बताया कि दो दिन में ही सफलता मिलने लगी, करीब 10 दिन बाद अमन का बुखार एकदम उतर गया।

डॉ. संजीव ने बताया कि बुखार उतरने के बाद अमन को कोमा से निकालने के लिए आयुर्वेद की विशेष तकनीक व दवाओं से इलाज शुरू किया गया। लगातार देखरेख व आयुर्वेद की विशेष दवाओं का प्रभाव डेढ़ महीने बाद दिखने लगा। इलाज के बाद उसके शरीर में हरकत होने लगी। इसके बाद धीरे-धीरे उसे होश आ गया। अब वह परिवार के सभी सदस्यों को पहचानने लगा है। उनके अनुसार वह हल्का बोल भी पा रहा है। उन्होंने बताया कि अगर आयुर्वेदिक दवाओं को सही पद्धति व तकनीक के साथ इलाज किया जाए तो लाभ मिलना लगभग निश्चित होता है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

Previous articleकेजीएमयू में पहली बार स्टेम सेल ट्रांसप्लांट सफल
Next articleछुट्टी में दवा बाहर से लाओ, मचा हंगामा

1 COMMENT

  1. Mere father ka BP bahut jyada badh gaya.. brain Mein attack Kiya kiya aur coma Mein chale gaye hain….. Panchi bar attack Kiya Hai lekin is bar Aankh hi nahin Khol Pa rahe hain please koi medicine hai to aap mujhe contact kijiye

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here