एक्सपायरी होने के बाद भी दवा दी गई विद्यार्थियों को

0
1165

न्यूज। जिले के प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में पेट के कीडे मारने वाली दवा, कथित रूप मीयाद खत्म होने की तारीख बीतने के बावजूद बच्चों को वितरित किए जाने का मामला सामने आया है । स्वास्थ्य विभाग ‘एक्सपायरी डेट’ बीतने के बाद की दवाओं की आपूर्ति और वितरण से इंकार कर रहा है, जबकि शिक्षा विभाग का कहना है कि उसने मीयाद खत्म होने की तारीख बीतने के बाद के 29 डिब्बे यानी 5,800 गोलियां प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, जौरही को वापस की हैं।

Advertisement

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. सन्तोष कुमार शुक्रवार को कहा कि जांच करा ली गयी है । स्वास्थ्य विभाग की ओर से, मीयाद खत्म होने की तारीख बीतने के बाद कोई भी दवा नहीं भेजी गई है । उन्होंने दावा किया कि सभी गोलियों की वैधता 2022 तक है हालांकि वह यह भी कहते हैं कि मीयाद खत्म होने की तारीख बीतने के बाद की एलमेंडाजॉल की गोलियां खा लेने से बच्चों की सेहत पर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा।

उधर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) हरिश्चंद्र नाथ ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से बच्चों के बीच बंटने वाली एलमेंडाजॉल गोलियों के डिब्बों में एक्सपायरी तिथि मार्च अथवा अप्रैल 2019 पाए जाने पर 29 डिब्बे यानी 5,800 गोलियां प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, जौरही को लिखित रूप से वापस की गई हैं। नाथ ने हालांकि कहा कि अनजाने में ऐसी कुछ गोलियां बच्चों में बंट चुकी हैं, लेकिन किसी बच्चे के बीमार होने की सूचना नहीं है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

Previous articleदस बैंकों का होगा विलय, चार बड़े बैंक बनेंगे
Next articleराशिफल – शनिवार, 31 अगस्त 2019

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here