सरकारी बैंकों के अधिकारियों की हड़ताल, कामकाज प्रभावित रहा

0
67

न्यूज। वेतन संशोधन की मांग सहित अन्य मांगों को लेकर सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के अधिकारियों की यूनियन की राष्ट्रव्यापी हड़ताल से शुक्रवार को देशभर में बैंकिंग कामकाज प्रभावित हुआ आैर काफी संख्या लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। देश के विभिन्न हिस्सों से मिली जानकारी के मुताबिक अलग-अलग हिस्सों में कई शाखाअों में सन्नाटा पसरा रहा। शाखाओं में रुपये जमा करने आैर निकालने, चेक भुनाने आैर ड्राफ्ट जारी करने जैसा कामकाज प्रभावित हुआ।

हालांकि आईसीआईसीआई आैर एचडीएफसी बैंक जैसे निजी क्षेत्र के बैंकों में कामकाज सामान्य रूप से जारी रहा।
अधिकतर बैंक अपने ग्राहकों को हड़ताल एवं सामान्य बैंकिंग कामकाज पर इसके पड़ने वाले प्रभाव के बारे में बता चुके थे। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कनफेडरेशन (एआईबीओसी) ने हड़ताल का आह्वान किया था। नौ बैंक यूनियनों के शीर्ष संगठन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स (यूएफबीयू) ने भी 26 दिसंबर को हड़ताल की घोषणा की है।

यूनियन की हड़ताल आैर अन्य छुट्टियों को मिला लिया जाए तो अगले बुधवार के बीच सरकारी बैंक एक दिन के लिए ही खुलेंगे। यूनियन द्वारा बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक आैर देना बैंक के प्रस्तावित विलय आैर क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के एकीकरण का भी विरोध कर रही है। उसका दावा है कि इस कदम से नवगठित बैंक को किसी भी समस्या के समाधान में मदद नहीं मिलेगी।

इसके अलावा वे वेतन में संशोधन को लागू करने की मांग कर रहे हैं। यह मुद्दा नवंबर, 2017 से लंबित है। वर्तमान में बैंकों ने स्केल एक-तीन के बैंक कर्मचारियों के लिए इसे लागू कराने की बातचीत के लिए इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) को अधिकृत किया है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here