MMBS पाठ्यक्रम में कम्युनिकेशन स्किल्स मेडिकोज

0
88

न्यूज। सरकारी से लेकर निजी अस्पतालों में डॉक्टरों और मरीजों में आए दिन होने वाली मारपीट और आपसी संवाद, व्यवहार को एमसीआई  ने गंभीरता से लिया है।  देर से ही  सही, लेकिन देश में एलोपैथी चिकित्सा शिक्षा के सर्वोच्च संगठन एमसीआई ने मरीज और डॉक्टर के व्यवहार और संवाद को पहली बार गंभीरता से लिया है। इसमें एमबीबीएस के नये पाठ्यक्रम में कम्युनिकेश स्किल्स को भी शामिल किया गया है, जिसमें डॉक्टर बनने वाले छात्रों को यह बताया जाएगा कि ओपीडी और वार्ड में मरीजों से कैसे बात की जाएं? हालांकि वर्ष 2003 में प्रदर्शित हुई राजकुमार हिरानी की फिल्म मुन्ना भाई एमबीबीएस में यह संदेश देने की कोशिश की गई थी।

एमसीआई की नई गठित बोर्ड ऑफ गर्वनेंस की सहमति के बाद जल्द शुरू होने वाले एमबीबीएस सत्र में छात्रों को व्यवहार और संवाद के गुर भी सिखाए जाएगें। इसके लिए एमसीआई ने सैलेबस भी तैयार कर लिया है। एमसीआई की नई गठित कमेटी के सदस्य डॉ. वेद प्रकाश मिश्रा अंडर ग्रेजुएट मेडिकल छात्रों के लिए नया सैलेबस तैयार किया है। अगर सूत्रों की मानें तो नये पाठ्यक्रम को बीओजी यानि बोर्ड ऑफ गर्वनेंस की मंजूरी मिलना लगभग तय है। इसके साथ ही पहली बार एमबीबीएस छात्रों को विषयों का चयन करने की भी स्वतंत्रता होगी, वर्ष 1997 के बाद एमबीबीएस के पाठ्यक्रम में बदलाव किया गया है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here