मैं थक गई हूं,…। आई लव यू पापा…

0
255

लखनऊ। किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में एनेस्थिसिया का इंजेक्शन लगाकर आत्महत्या करने वाली जूनियर रेजीडेंट डा. मनीषा शर्मा की मौत के बाद दूसरे दिन कमरे की तलाशी लेने फोरेंसिक टीम के साथ पुलिस भी पहुंची। गहन तलाशी के बाद कमरे में सीरींज और इंजेक्शन वायल मिला है। इसके साथ ही एक महत्वपूर्ण सबूत के रूप में हाथ से लिखा हुआ एक सुसाइड नोट भी मिला है, इसको पुलिस ने सील कर दिया है। सूत्रोंं की मानें तो सुसाइड नोट पर लिखा हुआ है कि मैं थक गई हूं,… आगे का बोझ नहीं उठा सकती…। आई लव यू पापा एंड एवरी वन…

बताते चले कि रविवार को केजीएमयू के क्वीन मेरी की जूनियर रेजीडेंट डा. मनीषा शर्मा ने रविवार को एनेस्थिसिया का हाई डोज का इंजेक्शन लगा लिया था, काफी प्रयासों के बाद भी सोमवार को उसकी मौत हो गई थी। मौके पर पहंुची पुलिस ने कमरे को सील कर चुकी थी। इस पर परिजनों ने फोरेंसिक टीम से कमरे की जांच कराने की मांग की थी। इसको ध्यान में रखते हुए आज दोपहर में डा. मनीषा के परिजनों को लेकर पुलिस, फोरेसिंक टीम, वार्डन और केजीएमयू चीफ प्राक्टर प्रो. आरएएस कुशवाहा की मौजूदगी मेंं बुद्धा हास्टल का कमरा नंबर डी 309 खोल कर तलाशी शुरू की गयी। पहली नजर में इधर- उधर बिखरी हुई किताबें दिखीं। यही पर एक हाथ से लिखा हुआ सुसाइड नोट भी मिल गया। टीम के हाथ यह महत्वपूर्ण सबूत था। अगर सूत्रोंं की मानें तो सुसाइड नोट पर लिखा हुआ है कि मैं थक गई हूं, आगे का बोझ नहीं उठा सकती…। आई लव यू पापा एंड एवरी वन…

पुलिस ने सुसाइड नोट को कब्जे में लेकर सील कर दिया है। पड़ताल में कमरे में शरीर को शिथिल करने वाले इंजेक्शन के दो वायल मिले हैं। इसके आलाव बेड के नीचे एक सीरिंज भी मिली है। पुलिस ने डा. मनीषा की नोटबुक भी कब्जे में ले लिया गया है। फारेसिंक टीम इससे सुसाइड के हैंडराइटिंग का मिलान करेगी। इस जांच के बाद डा. मनीषा की बहन ने आत्महत्या के लिए उसकाने के आरोपी डा. ऊधम सिंह के खिलाफ कार्रवाई की मागं की है। उसका तर्क है कि अभी तक पुलिस ने कोई कार्रवाई की नही, बल्कि केजीएमयू प्रशासन ने भी अभी तक कुछ नही किया है। डा. मनीषा की बहन ने हास्टल के सीसीटीवी फुटेज की भी मांग भी की है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here