कुशीनगर में डायरिया की चपेट से मां-बेटे की मौत

0
29

कुशीनगर – उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जनपद के दुदही विकास खण्ड क्षेत्र के रकबा दुलमापट्टी गांव में डायरिया की चपेट में आने से मां-बेटे की मौत हो गई जबकि बेटी का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। मां-बेटे की लाश घर पहुंचने पर वहां लोगों की भीड़ जुट गई। क्षेत्रीय विधायक अजय कुमार लल्लू ने अधिकारियों से बात कर गांव में स्वास्थ सुविधाएं मुहैया कराने की बात कही। सीएमओ ने मातहतों के साथ प्रभावित गांव का दौरा कर स्वास्थ विभाग की टीम को कैंप करने के निर्देश दिये।

जनपद के दुदही विकासखण्ड के रकबा दुलमापट्टी के मुसहर टोली में एक ही परिवार के तीन लोग उल्टी-दस्त से चार दिनों से पीड़ित थे। इधर उधर इलाज के बाद हालात बिगड़ने पर उन्हें दुदही सीएचसी में भर्ती कराया गया। गंभीर हालत में यहां से एंबुलेंस से जिला अस्पताल ले जाते समय संगीता उम्र 38 वर्ष पत्नी वीरेन्द्र व उसके 9 वर्षीय बेटे श्याम की मौत हो गयी। उसकी 12 वर्षीय बेटी लक्ष्मी की हालत नाजुक बनी हुई है। उसका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।
मां-बेटे की लाश लेकर वापस घर आने पर ग्रामीण संवेदना व्यक्त करने के लिए जुट गए। इसकी जानकारी होने पर विधायक अजय लल्लू ने इसकी सूचना डीएम और सीएमओ को दी। इसके बाद सीएमओ ने गांव का निरीक्षण किया। स्वास्थ्य टीम द्वारा गांव में फागिंग के साथ साथ दवाओं का वितरण किया जा रहा है।

ज्ञातव्य हो कि रकबा दुलमापट्टी में पांच साल पहले कालाजार का प्रकोप बड़े पैमाने पर था। यहां के लोग जब तक इस बीमारी के बारे में जानते तब तक दर्जन भर लोग इसकी चपेट में आकर अपनी जान गवां दिए थे। बाद में यूपी तथा केन्द्र सरकार के स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने कई बार इस गांव का दौरा किया था। इसके बाद कालाजार के उन्मूलन के हर संभव उपाय किये गए। डायरिया से मां-बेटे की मौत होने पर एक बार फिर यह गांव सुर्खियों में आ गया है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here