कुम्भ में जरूरतमंदों को मदद करेगा नेत्र कुम्भ

0
100

लखनऊ। प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि कुम्भ में पवित्र संगम स्नान करने लाखों लोग ऐसे भी आते हैं जो अपनी ग्रामीण एवं निर्धन परिस्थितियों के कारण अपनी आँख की जांच नहीं करा पाते हैं और न ही चश्मा ले पाते हैं। इसी के दृष्टिगत इस वर्ष होने वाले कुम्भ में नेत्र कुम्भ का भी आयोजन किया जा रहा है। इसके लिए निःशुल्क नेत्र रोग के इलाज के लिए 15 सीटर वाहन एवं एम्बुलेंस को सिद्धार्थ नाथ ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
उन्होंने कहा कि नेत्र कुम्भ में श्रद्धालुओं के लिए निःशुल्क नेत्र जाँच एवं जनरल ओपीडी की सुविधा सहित नेत्र रोगियों को 1 लाख से ज्यादा चश्मा भी निःशुल्क वितरित किया जाएगा. इस नेत्र कुम्भ का आयोजन भाउराव देवरस सेवा न्यास, सक्षम, नेशनल मेडिकोज आर्गेनाईजेशन, सर गंगाराम अस्पताल एवं रज्जू भैय्या न्यास के तत्वाधान में 12 जनवरी से 4 मार्च तक किया जाएगा।

श्री सिंह ने कहा कि कुम्भ में इस तरह के कार्य में सरकार के साथ-साथ ऐसी संस्थाओं द्वारा किये जा रहे कार्य गरीब श्रद्धालुओं के लिए वरदान साबित होंगे। उन्होंने कहा कि कुम्भ में आने वाले श्रद्धालुओं को चिकित्सीय असुविधा न हो, इसके लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा 11 सेंटर एवं 100 बेड के आधुनिक अस्पताल की व्यवस्था की गई है। नेत्र कुम्भ में नेत्र जांच के अतिरिक्त सामान्य ओपीडी का भी संचालन किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इस नेत्र कुम्भ में लगभग 400 से ज्यादा डाक्टर एवं पैरामेडिकलकर्मी अपना योगदान देंगे। नेत्र कुम्भ में आने वाले गंभीर मरीजों के भर्ती हेतु इलाहाबाद मेडिकल कॉलेज, बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय एवं किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में भर्ती कराया जाएगा। कुम्भ मेला क्षेत्र के अंतर्गत नेत्र कुम्भ शिविर सेक्टर-6, बजरंग दास मार्ग एवं जनरल ओपीडी सेक्टर-4, अपर संगम रोड पर लगाया जाएगा। नेत्र कुम्भ में नेत्र जांच के बाद लगभग एक लाख श्रद्धालुओं को निःशुल्क चश्मा वितरण करने का लक्ष्य रखा गया है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here