कौशल से ज्यादा ज्ञान है महत्वपूर्ण : कुलपति

0
49

किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के कलाम सेंटर में कॉलेज ऑफ नर्सिंग द्वारा “ Translating Evidence To Improve Nursing Care In the Clinicals” के विषय पर राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि चिकित्सा विश्वविद्यालय के मा0 कुलपति प्रो0एम0एल0बी0भटट् ने नर्सिंग कॉलेज एवं नर्सिंग पेशे को और अधिक समृद्ध एवं सर्मथ किए जाने हेतु संयुक्त एवं सहयोगात्मक रूप से ऐसे कार्यक्रमों को आयोजित किए जाने हेतु प्रोत्साहित किया गया। मा0 कुलपति जी ने ऐसे कार्यक्रम आयोजित किए जाने पर नर्सिंग कॉलेज की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए कहा कि इस सम्मेलन से मिलने वाला ज्ञान और अनुभव जीवन भर विद्यार्थियों के काम आएगा।

उन्होंने कहा कि नर्सिंग केयर में ज्ञान से ज्यादा कौशल महत्वपूर्ण है लेकिन यह भी मैं कहना चाहूंगा कि कौशल से ज्यादा ज्ञान महत्वपूर्ण है। यह दोनों एक-दूसरे के पूरक है। जब तक विद्यार्थियों को जानने की उत्सुकता नहीं होगी, कुछ सीख नहीं पाएंगे। मा0 कुलपति जी ने कहा कि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने कॉम्पीटंेसी बेस्ड मेडिकल एजुकेशन का प्रारम्भ किया है। उस कॉम्पीटंेसी बेस्ड मेडिकल एजुकेशन की नर्सिंग में मेडिकल एजुकेशन में ज्यादा आवश्यक है और उस कॉम्पीटंेसी के लिए कौशल का होना अत्यंत आवश्यक है।

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि चैन्नई के डॉ0 टी0आर0 उदय कुमार द्वारा नर्सिंग छात्रों एवं नर्सिंग सेवा के उत्थान हेतु गुणवत्ता परख नर्सिंग शोध कार्य हेतु प्रोत्साहित किया गया। इसके साथ ही उन्होंने नर्सिंग शिक्षा, ट्रेनिंग, पै्रक्टिस, शोध के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि चिकित्सा क्षेत्र में नर्सिंग केयर की भूमिका किसी चिकित्सक से कम नहीं आंकी जा सकती। इसके साथ ही उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं में भारतीय जी0डी0पी0 का मात्र 01ण्15 प्रतिशत ही खर्च किए जाने पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि भारत मेडिकल टूरिजम के लिहाज से बहुत बड़े आकर्षण का केन्द्र है और आने वाले समय में स्वास्थ्य सेवाओं पर और अधिक पैसा खर्च किया जाना आवश्यक है।

इस अवसर पर कार्यक्रम की आयोजन नर्सिंग कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ0 रश्मि पी0 जॉन ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में मुख्य रूप से मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ0 एस0एन0शंखवार, वाइस डीन, नर्सिंग डॉ0 पुनिता मानिक, प्रो उर्मिला सिंह, डॉ0 राजरानी, प्रिंसिपल, एम्स जोधपुर, डॉ0 अंजुल, वाइस प्रिंसिपल ऐरा कॉलेेज ऑफ नर्सिंग समेत विभिन्न नर्सिंग कॉलेज के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here