एनफ्लूएंजा – ए एच-1 एन -1 (स्वाइन फ्लू) से बचाव कर सकते है आप

0
105

विशेषज्ञों की राय….

  • जब खांसे या छींके अपने मुंह व नाक को साफ कपड़े, रूमाल, टिश्यू पेपर या मास्क से ढक लें।
  • समय- समय पर हाथ को सेनेटाइजर, साबुन तथा गुनगुने पानी से धोते रहे।
  • अपने मुंह व नाक को हाथ से न छुए
  • अगर फ्लू जैसे लक्षण है तो घर पर ही आराम करें।
  • अगर स्वाइन फ्लू पीड़ित मरीज से मिले तो एक हाथ की दूरी या तीन फीट की दूूरी से बात करें। ताकि संक्रमण से बचा जा सके।
  • किसी से भी हाथ मिलाने से बचें।
  • डाक्टर की सलाह के बिना खुद डाक्टर न बनें।
  • पूरी नींद लेना चाहिए।
  • भीड़- भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें।
  • अधिकाधिक मात्रा में पानी व द्रव पदार्थो का सेवन करें।
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि के लिए ताजा पोषक , स्वास्थ्य वर्धक आहार लें।
  • हरी सब्जियां,मौसमी फल तथा साइट्रस फलों का अधिक सेवन करें।
  • सभी सरकारी प्रमुख अस्पतालों यानी केजीएमयू व पीजीआई में एनफ्लुएंजा ए एच-1 एन-1 की जांच व इलाज की सुविधा मुफ्त मौजूद है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here