जीवीके ने सड़क दुर्घटनाओं से बचाव हेतु किया जागरूक

सड़क दुर्घटनाओं में लखनऊ बना नम्बर वन, आंकड़े जारी कर दी जानकारी

0
84

लखनऊ – प्रदेश में 108 एम्बुलेंस संचालित कर रही संस्था जी.वी.के ई.एम.आर.आई ने सड़क दुर्घटनाओं में प्रदेश के टॉप 5 शहरों के नाम आकड़ो सहित जारी किये। प्रदेश में संस्था के प्रमुख प्रमिल शाह ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि लखनऊ में लगातार सड़क हादसों की संख्या बढ़ रही है। जिसमे सितम्बर -305, अक्टूबर -483, नवंबर -538 दुर्घनाओं के साथ प्रदेश की राजधानी में सर्वाधिक सड़क हादसे हुये। प्रमिल शाह में छमाही आंकड़े जारी करते हुए बताया कि प्रदेश के टॉप 5 शहरों में क्रमशः लखनऊ -2826 , फिरोजाबाद -2506, जौंनपुर -2320, गोरखपुर -2302 तथा आजमगढ़ में 2166 सड़क दुर्घनाएं दर्ज की गयी।

लखनऊ में सर्वाधिक सड़क हादसों वाले स्थान

108 एम्बुलेंस के काल सेंटर में सड़क दुर्घटनाओं से सम्बंधित कॉल प्रदेश के सभी स्थानों से आती रहती है, सर्वाधिक आयीं कालो के आधार पर संस्था द्वारा लखनऊ के कुछ प्रमुख स्थान चिन्हित किये गए है। जहां दुर्घटनाएं सबसे अधिक होती है उनमें मुख्यतःशहीद पथ, सीतापुर रोड ,लोहिया पथ, कानपुर रोड , फैज़ाबाद रोड , चारबाग़ , कैसरबाग आदि है।

पोस्टर बैनर व प्रचार सामग्री बांटकर किया जागरूक

प्रदेश के अधिक सड़क हादसों वाले जिलो में संस्था द्वारा पोस्टर , बैनर व साइन बोर्ड के माध्यम से भी जनता को जागरूक करने का कार्य किया जा रहा है । सँस्था द्वारा ये बैनर अत्यधिक भीड़ भाड़ वाले इलाके के साथ ही हाइ वे पर भी लगाए गए है ,जिनमे सड़क हादसों समेत किसी भी आकस्मिक मेडिकल सहायता हेतु 108 नम्बर पर काल करने के बारे में जानकारी दर्शायी गयी है । सँस्था द्वारा समय समय पर प्रचार सामग्री का वितरण भी किया जाता है जिससे सड़क दुर्घटनाओं से बचाव संबंधी जानकारी अधिक से अधिक संख्या में लोगो तक पहुंचायी जा सके।

108 एम्बुलेंस ने बचाई जान

सड़क हादसों में 108 एम्बुलेंस ने अब तक लाखो लोगो की जान बचायी है । काल सेंटर पर आयी काल पर तत्काल एम्बुलेंस मौके पर पहुंच जाती है तथा प्रशिक्षित स्टाफ द्वारा आकस्मिक मेडिकल ट्रीटमेंट तत्काल उपलब्ध करा दिया जाता है। गम्भीर मामलों में दुर्घटना के शिकार लोगो को नजदीकी अस्पताल पहुँचा दिया जाता है।कई मामलों में दुर्घटना वाले इलाकों से गुजर रहे राहगीरों द्वारा भी जानकारी मिल जाती जिससे एम्बुलेंस मौके पर पहुँच जाती है।

सीट बेल्ट व हेलमेट पहनने की अपील

संस्था के यू पी प्रमुख प्रमिल शाह ने बताया कि सड़क दुर्घनाओं की मुख्य वजहों में तेज गति से गाड़ी चलाना , इंडिकेटर का उपयोग न करना , आगे चल रही गाड़ी से तय दूरी बना कर न रखना आदि रहे। उन्होंने बताया कि इन दुर्घनाओं में युवाओं की संख्या भी अच्छी खासी होती है। शाह ने प्रदेश की जनता खास कर युवाओ से सीट बेल्ट तथा हेलमेट पहन कर ही गाड़ी चलाने की अपील की।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here