फर्जी चेक लगाकर केजीएमयू के खाते से ढाई करोड़ रुपये उड़ाये

0
163

लखनऊ । किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय प्रशासन के कंटीजेसी खाते से फर्जी चेक लगाकर ढाई करोड़ रुपये का उड़ा दिये गये है। खाते से ढाई करोड़ रुपये निकलने के बाद केजीएमयू प्रशासन के होश फाख्ता हो गये। कुलसचिव ने इस रिपोर्ट चौक कोतवाली में दर्ज करा दी है। फर्जी चेक केजीएमयू के वित्त कार्यालय को जारी चेक बुक की नकल किया गया है। यह रकम जानकी पुरम स्थित बैक के खाता धारक को भुगतान भी कर दी गयी है।

केजीएमयू प्रशासन ने चौक कोतवाली को दिये गये पत्र में कहा है कि केजीएमयू परिसर स्थित इलाहाबाद बैंक शाखा स्थित में केजीएमयू का कंटीजेंसी खाता है। जिसका आहरण वर्तमान में कुलसचिव केजीएमयू तथा वित्त एवं लेखा विभाग के प्रमुख के हस्ताक्षर से किया जा रहा है। इस खाते से एक कूटरचित चेक संख्या 327565 से 3.10. 2018 से जानकीपुरम स्थित इंडसइंड बैंक लिमिटेड में कथित खाता धारक अमित प्रकाश पाठक ने प्रस्तुत करके 2,50,00000 रुपये का भुगतान भी प्राप्त कर लिया है।

जारी यह चेक केजीएमयू के कु लसचिव व वित्त एवं लेखा विभाग द्वारा नहीं जारी की गयी है। आरोप है कि जिस चेक से भुगतान किया गया है, वह केजीएमयू वित्त कार्यालय को जारी चेक बुक से बिल्कुल अलग है। आरोप है कि बिना बैंक कर्मचारियों के मिली भगत के कूटरचित (फर्जी) चेक से 2,50,00000 का भुगतान नहीं किया जा सकता है। यह चेक केजीएमयू के वित्त एवं लेखा विभाग से जारी नहीं की गयी है। केजीएमयू प्रशासन ने कथित अमित प्रकाश पाठक एवं अन्य दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा है। चौक कोतवाली में दर्ज की गयी इस शिकायत से पुलिस अधिकारियों के भी होश उड़ गये है।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here