समाज की मुख्य धारा से गरीब दलितों को जोड़ना प्राथमिकता : सीएम

0
94

लखनऊ। भारत रत्न डॉ. भीमराव आंबेडकर से जुड़े पांच स्थलों को’ पंच-तीर्थ”के रूप में विकसित करने के केन्द्र सरकार के संकल्प को दोहराते हुये प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गरीबों, दलितों व वंचितों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ना सरकार की प्राथमिकता है। बाबा साहब की 127वीं जयंती के मौके पर श्री योगी ने शनिवार को कहा कि डॉ. आंबेडकर का जीवन हम सभी के लिए प्रेरक है। समाज के दलित शोषित वर्ग के जिन लोगों को सरकारी सुविधाओं से वंचित रखा गया है, उन्हें वास्तविक लाभ प्रदान करने के उद्देश्य से एक कमीशन गठित किया जाएगा। सरकार ने कार्यभार ग्रहण करते ही अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के 21 लाख लोगों को स्कॉलरशिप देने का काम किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाबा साहब ने भारतीयों के मन में यह आत्मविश्वास जगाया कि किसी भी हालत में संघर्ष और शिक्षा के बल पर आगे बढ़ा जा सकता है। उन्होंने कहा कि संविधान केवल पूजा के लिए नहीं है, बल्कि इसे व्यवहार में भी लाया जाना आवश्यक है। आज आवश्यकता है कि हम बाबा साहब के जीवन दर्शन को अपनाकर एक श्रेष्ठ भारत का निर्माण करें, क्योंकि देश को कहां ले जाना है, इसका कर्तव्यबोध हमें होना चाहिए।

उन्होने कहा कि डॉ. अंबेडकर को उचित सम्मान दिलाने में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का महत्वपूर्ण योगदान है। जहां एक ओर प्रधानमंाी बाबा साहब डॉ. अंबेडकर से जुड़े स्थलों को विकसित कर उनके दर्शन से वर्तमान एवं भावी पीढ़ी को जोड़ने का महत्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर डॉ. आंबेडकर की सोच के अनुरूप विकास कार्यों को भी समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं।

अब PayTM के जरिए भी द एम्पल न्यूज़ की मदद कर सकते हैं. मोबाइल नंबर 9140014727 पर पेटीएम करें.
द एम्पल न्यूज़ डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000 > Rs 10000.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here